Ganesh Ji Ke 12 Naam | गणेश जी के 12 नाम

गणेश जी के 12 नाम की जानकारी आज इस लेख मे आपको मिल जाएगी वो भी मंत्र सहित कई लोगो को इन 12 नाम के मंत्र की आवश्क्ता होती है। इस लिए यहा सभी तरहा की जानकारी इशी लेख मे दी गयी है। हम सब जानते हे की हिन्दू धर्म मे भगवान गणेश जी को काफी महत्व दिया गया है। और किसी भी शुभ कार्य मे सों प्रथम गणेश जी की पूजा की जाती है। तो आज इस लेख की शुरुआत करने से पहेले मे भी भगवान गणेश जी का नाम लेके उनको प्रणाम करके इस लेख की सुरुआत करता हु।

गणेश जी के 12 नाम अर्थ के साथ

नंबर गणेश जी के 12 नाम 12 नाम अर्थ
1सुमुखसुन्दर मुख वाले
2एकदन्तएक दांत वाले
3कपिलकपिल वर्ण के
4गजकर्णहाथी के कान वाले
5लम्बोदरलम्बे पेट वाले
6विकटविपत्ति का नाश करने वाले
7विनायकन्याय करने वाले
8धूम्रकेतुधुये के रंग वाली पताका वाले
9गणाध्यक्षगुणों के अध्यक्ष
10भालचन्द्रमस्तक में चन्द्रमा धारण करने वाले
11गजाननहाथी के समान मुख वाले
12विघ्रनाशनविघ्नों को हरने वाले

गणेश जी के इन 12 नाम मे बाजू मे आपको उनका अर्थ क्या होता है इसके बारे मे जानकारी दी हुई है। अब जानते है की इन सभी 12 नाम को मंत्र के रूप मे कैसे जानते है। ये इस लिए जरूरी है क्यू की कई लोगो को गणेश भगवान के इन 12 मंत्र का जाप करना होता है।

गणेश जी के 12 नाम और मंत्र

कई लोगो को गणेश जी के 12 नाम और मंत्र दोनों के बारे मे जानकारी चाहिए होती हे तो उंब सभी के लिए यहा नीचे पूरा टेबल मे जानकारी बताई गई हे आप लोग यहा से आसानी से इसको पढ़ सकते हो। और यहा से आप इनको याद भी रख सकते है।

नाम नंबरगणेश जी के 12गणेश जी के 12 नाम के मंत्र
1सुमुखॐ सुमुखाय नमः
2एकदन्तॐ एकदंताय नमः
3कपिलॐ कपिलाय नमः
4गजकर्णॐ गजकर्णाय नमः
5लम्बोदरॐ लंबोदराय नमः
6विकटॐ विकटाय नमः
7विनायकॐ विनायकाय नमः
8धूम्रकेतुॐ धूम्रकेतवे नमः
9गणाध्यक्षॐ गणाध्यक्षाय नमः
10भालचन्द्रॐ भालचंद्राय नमः
11गजाननॐ गजाननाय नमः
12विघ्रनाशनॐ विध्ननाशाय नमः

गणेश जी के 12 नाम का मंत्र फोटो मे

ganesh ji ke 12 naam ka mantra

इन सभी गणेश जी के 12 नाम का मंत्र का जाप करने से कई प्रकार के फायदे है। अगर आपको ये लेख मदद रूप लगा हे तो तो आप मुजे इस लेख मे कमेंट करके बताए और अगर इस लेख मे और भी जानकारी जोड़ नि हे तो आप उसके बारे मे भी जानकारी दे सकते है मे अवश्य उस विषय पर जानकारी जोड़ूगा।

गणेश द्वादश नाम स्तोत्र से दूर होगे आपके विघ्न

गणेश द्वादश नाम स्तोत्र का पाठ करने से मनुष्य के जीवन मे सब कुछ अच्छा और सब मंगल मय बनने लगता है। गणेश द्वादश नाम स्तोत्र बुधवार और गुरुवार को करना चाहिए इस दिन इसका प्रभाव काफी अच्छा रहेता हे और आपको बताना चाहुगा की इस गणेश द्वादश नाम स्तोत्र के अंदर गणेश जी के 12 नाम का वर्णन किया गया हे इस लिए इसको काफी शुभ माना जाता हे और इससे काफी अच्छा जीवन होता हे मनुष्य का।

।। श्रीगणेशाय नम:।।

।।शुक्लांम्बरधरं देवं शशिवर्णं चतुर्भुजम् ।
प्रसन्नवदनं ध्यायेत्सर्वविघ्नोपशांतये ।।1।।

अभीप्सितार्थसिद्ध्यर्थं पूजेतो य: सुरासुरै: ।
सर्वविघ्नहरस्तस्मै गणाधिपतये नम: ।।2।।

गणानामधिपश्चण्डो गजवक्त्रस्त्रिलोचन: ।
प्रसन्न भव मे नित्यं वरदातर्विनायक ।।3।।

सुमुखश्चैकदन्तश्च कपिलो गजकर्णक:
लम्बोदरश्च विकटो विघ्ननाशो विनायक: ।।4 ।।

धूम्रकेतुर्गणाध्यक्षो भालचंद्रो गजानन:।
द्वादशैतानि नामानि गणेशस्य य: पठेत् ।।5।।

विद्यार्थी लभते विद्यां धनार्थी विपुलं धनम् ।
इष्टकामं तु कामार्थी धर्मार्थी मोक्षमक्षयम् ।।6।।

विद्यारभ्मे विवाहे च प्रवेशे निर्गमे तथा
संग्रामे संकटेश्चैव विघ्नस्तस्य न जायते ।।7।।

कूच सवाल

  1. गणेश जी के कितने नाम है?

    गणेश जी के 108 नाम है जिसकी जानकारी आपको इस लेख मे मिल जाएगी।

  2. गणेश जी का पहला नाम क्या था?

    गणेश जी का पहला नाम गणेश ही था।

  3. भगवान गणेश जी की पत्नी का क्या नाम था?

    भगवान गणेश जी की पत्नी का नाम रिद्धि और सिद्धि था। उनकी दो पत्नी थी।

  4. गणेश जी क्या लिखे थे?

    गणेश जी महाभारत लिखे थे।

इसे भी पढे।

by Mayur
मेरा नाम मयूर है और मे अहमदाबाद शहर से हु। और इस ब्लॉग मे लोगो को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी और कई महत्व पुन जानकारी देता हु लेख के रूप मे मुजे उम्मीद है की आपको हमारा ये ब्लॉग पसंद आएगा।

Leave a Comment

केनरा बैंक बैलेंस चेक नंबर क्या है? BGMI Free Rewards दे रहा है जानिए केसे? iPhone SE 5G 2022 लॉन्च डेट और प्राइस Happy Makar Sankranti Images, Photos 2022 New Upcoming Smartphones – January 2022